जानें मानव शरीर के बारें में 36 अविश्सनीय तथ्य हिंदी में | 36-Human Body Psychological Facts in Hindi

Human Body Psychological Fact

दोस्तों, कैसे है आप लोग ? उम्मीद करता हूँ की सब कुशल और मज्जे में होंगे। वैसे तो हमारे शरीर ( Human Body Psychological Fact ) के बारे में  हजारों तथ्य है , लेकिन आज मई आप लोगो के लिए बस 36 ऐसे अनोखी तथ्य सामने लाया हूँ , जो शायद पहले आप नहीं जानते थें ।

ऐसे ही रोचक एवं ज्ञान बर्धक सामग्री पढ़ने के लिए इस वेबसाइट को जरूर सब्सक्राइब करें । और हमरे इस सामग्री को अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें ताकि आपके दोस्तों को भी कुछ ज्ञान हासिंल हो सके । तो चलिए बिना वक्त गवाएं जानतें हैं , आज की बातें ।

1.      Seafood मानव मस्तिष्क के लिए सबसे ज्यादा लाभकारी है आहार है, क्योंकि इसमें फैटी एसिड होता है, जो मस्तिष्क के         परफॉरमेंस को 15% तक बढ़ा सकता है ।

Human Body Psychological Fact
Seafood

 

 

2.    साइकोलॉजिस्ट का कहना है कि दिवास्वप्न वास्तव में होता है, यदि आपके दीवा सपनों के हिसाब से कम किया जाए, तो यह अवश्य पूरा होता है। दिवास्वप्न आपको तब आता है जब आप गहरी नींद में हो। इसमें आपका विभिन्न मानसिक प्रक्रिया वह भी शामिल रहता है।

 

 3.      यदि आपके शरीर में अत्यधिक बाल है, तो आप बुद्धिमानी होने का बहुत संभावना है, क्योंकि शरीर में अत्यधिक बाल उच्चतम बुद्धि से जुड़े होते हैं।

 

4.      हमें रोना तब आता है, जब हमारी जुबान दर्द की व्याख्या नहीं कर सकती।

 

 5.     हमारे आंखों के अंदर रेटीना लगभग 650 वर्ग किलोमीटर कवर करता है, और इसमें 137 मिलियन प्रकाश संवेदनशील कोशिकाएं होती है। उसमें से 130 मिलियन कोशिका है सफेद चीजों  को देखने के लिए होता है और केवल 7 मिलियन आपको रंग में देखने में मदद करने के लिए की है।

 

 6.      एक सर्जिकल प्रक्रिया जिसे सिलेक्टिव एमीगदालोहिप्पोकामक्पेक्टमी कहा जाता है, मस्तिष्क के आधे एमिग्डाला को हटा देती है, और इसके साथ रोगी की  कई भावनाओं को भी।

 

 7.      इंसान अपने जीवन काल में दो स्विमिंग पूल के पानी बराबर का लार उत्पादन करता है।

 

 8.      हमारी आखों की कॉर्निया हमारे शरीर का एकमात्र ऐसा पारदर्शी अंग है, जिसमे रक्त आपूर्ति नहीं होती है और इसे सीधे हवा से ऑक्सीजन मिलती है।

 

 9.      क्या आप जानते हैं, जब आप  सोते हैं, तो आप 8 एमएम बढ़ जाते हैं, और आप सुबह जब उठते हैं, तो फिर से पहले की स्थिति में आ जाते हैं।

 

 10.    क्या आपको पता है, दाएं हाथ के लोग अपना अधिकांश भोजन अपने मुंह के दाएं और चबाते  हैं, जबकि बाएं हाथ के लोग भोजन बाएं और चबाते  हैं।

 

Human Body Psychological Fact

 

11.      किसी अन्य कैंसर की तुलना में हृदय के Cancer  बहुत ही दुर्लभ है, क्योंकि DNA की कोशिकाएं कम उम्र में विभाजित होना बंद कर देती है।

 

 12.     क्या आप जानते है हर 3 से 4 दिनों में आपकी पेट को नई परत मिलती है, अगर ऐसा नहीं होता है, तो आपके पेट में मौजूद मजबूत एसिड आपके पेट को पचा लगा।

 

13.    उबासी लेना  हमें अपने फेफड़ों में अधिक ऑक्सीजन लेने में मदद करती है। हम आमतौर पर जब आप उबासी  लेते हैं, क्योंकि हमारा मस्तिष्क हमारे संवेदी तंत्र को एक संदेश भेजता है, जब उसे ऑक्सीजन की कमी का एहसास होता है।

 

 14.    एक व्यस्क शरीर का लगभग 70% हिस्सा पानी होता है।

 

 15.     आयरन की कमी दुनिया भर में कुपोषण का सबसे प्रचलित रूप है, जो अनुमानित 2 अरब लोगों को प्रभावित करता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO का कहना है कि आयरन की कमी को दूर करने से राष्ट्रीय उत्पादकता स्तर में 20% तक सुधार हो सकता है।

 

 16.    हर घंटे हम अपनी त्वचा के लगभग छह लाख कन बहाते हैं।

 

17.     खुली आंखों से छींकना असंभव है।

 

 18.    मनुष्य अपने डीएनए का 50% केले के साथ साझा करते हैं। यह आपके लिए अविश्वसनीय हो सकता है, लेकिन मनोवैज्ञानिक रूप से यह सच है।

 

 19.    जब आप किसी से बात कर रहे होते हो, तो आप उनके पैरों में देखकर यह पता लगा सकते हैं, वह आपकी बातों में रूचि दे रहा है या नहीं। बात करते समय उसका पैर यदि आपकी तरफ हो तो आप पर उसकी रूचि है। अगर नहीं तो वह बातचीत को छोड़ना चाहते हैं।

 

 20.    क्या आप जानते  है, आपके DNA मैं इतना ज्यादा कोशिकाएं है, जो कि अगर हम फैलाए हैं, तो  पृथ्वी से प्लूटो गृह के बिच के दुरी का दोगुना हो सकता है।

 

Human Body Psychological Fact

 

21.      मानव शरीर की जबड़े की मांसपेशी सबसे मजबूत मांसपेशी होती है।

 

22.     आपकी नींद के REM चरण के दौरान, शरीर को एक तंत्र के माध्यम से पंगु बना दिया जाता है, जो आपके शरीर को सपने के कारण शारीरिक रूप से आगे बढ़ने से रोकता है। यह तंत्र आपके सोने के दौरान पहले और बाद में भी हो सकता है। जब आपका मस्तिष्क पूरी तरह से जागृत हो जाता है। यही एक रहस्य है, जबकि आप कभी-कभी उठने और जागने के बाद भी इधर उधर चल नहीं सकते।

 

23.    नीली आंखों वाले लोगों में कैंसर का खतरा ज्यादा होता है।

 

 24.    वास्तव में लैंगिक समानता नहीं है, लेकिन यह सिर्फ सुनने के लिए अच्छा लगता है। वैसे भी पुरुष और महिलाएं अलग-अलग तरह के सपने देखते हैं। पुरुषों में हिंसक और आक्रमक सपने आने की संभावना ज्यादा रहता है, और सपनों में 70% पात्र पुरुष ही होते हैं। दूसरी ओर महिलाएं महिलाओं और पुरुषों के बारे में समान रूप से सपने देखती है।

 

 25.    शायद आपको यह सुनकर अजीब लग सकता है, मानव शरीर में बैक्टीरिया कुल 2 किलो वजन तक का हो सकता है।

 

 26.    मानव आंख और कान कभी भी बढ़ना बंद नहीं करते क्योंकि वह मुख्य रूप से Cartilage कोशिकाओं से बने होते हैं, जो उम्र के साथ  बड़े होते रहते हैं।

27.    क्या आप जानते हैं, कि अगर इंसान की आंख एक डिजिटल कैमरा होती तो उसमें 576 मेगापिक्सल का होता।

 

28.    हमारे मुंह में बैक्टीरिया की कुल संख्या पृथ्वी ग्रह पर रहने वाले लोगों की कुल संख्या के बराबर है, हालांकि यह बैक्टीरिया हमें कोई नुकसान नहीं पहुंचाते हैं, बदले में यह हानिकारक रोग पैदा करने वाले जीवो से हमारी रक्षा करते हैं।

 

29.     जब कोई बच्चा पैदा होता है उसे कोई भी रंग का दृष्टि नहीं होता, रंग की दृष्टि बच्चों को जन्म के 2 हफ्ते बाद शुरू होती है, और शिशु 6 महीने तक रंग को पूरी तरह से समझने में सक्षम हो जाते हैं।

 

30      नीली आंखों वाले लोग शराब के प्रति शारीरिक रूप से अधिक आकर्षित होते हैं, यही वजह है कि जिन लोगों की आंखों का रंग नीला होता है उनके शराबी बनने की संभावना अधिक होती है।

 

 31.    क्या आप जानते हैं ” मांसपेशी ” शब्द लैटिन शब्द से आया है,जिसका अर्थ होता है छोटा चूहा, जो कि प्राचीन रोमनों सोचा था कि लचीली Biceps मांसपेशियां समान होती है।

 

32.     मानव शरीर की सबसे मजबूत मांसपेशी जीभ है।

 

33.     नींद के दौरान हानिकारक चीजों को करने से रोकने के लिए मानव शरीर को आंशिक पक्षाघात हो जाता है।

 

 34.     मानव फेफड़ों क्षेत्रों की सतह का क्षेत्रफल लगभग एक टेनिस कोर्ट के क्षेत्रफल के बराबर होता है।

 

35.     हम एक ही समय में श्वास लेना और निगलना नहीं सकते हैं। लेकिन एक नवजात शिशु अपने 7 से 8 महीने तक श्वास लेना और निगलना एक साथ कर सकते हैं।

36.    मानव दाँत शार्क के दांतों की तरह ही मजबूत होते हैं, और शरीर में कैल्शियम की कुल मात्रा का लगभग 99% दांतों में मौजूद होता है।

 

यह भी जानें : 72- साइकोलॉजी फैक्ट हिंदी में

 

 

दोस्तों, आपको यह पोस्ट कैसा लगा कमेंट में जरूर बताएं ।

Leave a Reply