7. Mind blowing fact in hind

Healthy habits for success

आश्चर्यजनक स्टोरी आपको जरूर जाननी चाहिए ।

  साइकोलॉजी एक बहुत अलग चीज है, सिर्फ लोगों से बात करके उनके हाव-भाव से यह जान लेना कि वह कितना सुन और कितना समझ रहा है। या किसी को देखकर उसके व्यवहार का अनुमान लगा लेना, या अपने secret छुपा कर रखना ताकि आप अपने काम को पूरा होता देख सकें।

यह सभी चीजें साइकोलॉजी का हिसाब से बहुत सटीक तरीके से काम करता है। आपकी बुद्धि आपकी दिमाग इसके बारे में जितना जानते रहोगे उतना कम है। एक कंप्यूटर जितना तेजी से काम करता है, उससे हजार गुना तेजी से हमारा दिमाग काम करता है। कंप्यूटर और दिमाग में एक चीज ज्यादा कॉमन है और वह यह है कि कंप्यूटर कमांड पर चलता है और हमारा दिमाग भी हम द्वारा दिए गए कमांड ही फॉलो करता है।

      आप जो भी बोलोगे व वैसा वैसा ही काम कर करना शुरू कर देगा। यही वजह है कि कोई लोगों के ब्रेनवाश करके उनके दिमाग में ऐसे चीजें डाल दी जाती है कि शायद कभी वह मानना नहीं चाहते या ये मानते नहीं थे। आइए मैं आपको ऐसी ही बातें बताने वाला हूं। जिसे जानने के बाद आप शायद अपने दिमाग को सीरियस लेना शुरू कर देंगे। और हो सकता है कि आपका माइंड पहले से बेहतरीन तरीके से काम करने लगे।

तो इस पर सबसे पहले है कि हमारा दिमाग बहुत creative काम करता है। जब हम थके हुए होते हैं, या उससे ज्यादा काम लेते हैं। रिसर्च के हिसाब से अगर आप सिर्फ बैठे हुए हो। मतलब आपने ऐसा काम नहीं किया जो वाकई आपको थका सके, या जिससे आपके बहुत ही ज्यादा फोकस की लीड हो, तो इसके बहुत कम चांस है कि आप कुछ क्रिएटिव कर पाओगे।

और वही आप किसी काम को बहुत फोकस करके काम कर रहे हो, और फिर आपको याद आया अरे यार,  वह चीज भी तो हो सकती है। तो ए एक्स्ट्रा क्रिएटिविटी निकालना शांत बैठे बैठे नहीं होता।

 

pexels brett sayles 1340502

 

अब जैसे कोई आदमी बहुत ही ब्यूटीफुल पेंटिंग बनाता है, और उसे एक काम मिला हैं कि उसे कोई ऐसी पेंटिंग तैयार करनी है जो बिल्कुल अलग हो। मतलब ऐसा कुछ कि उसके अंदर इमोशन भी छुपे हो और कुछ गुस्सा भी। अब यह आदमी पूरा दिन सब काम छोड़कर बस उसी पेंटिंग के बारे में सोचता रहा।

यार क्या बनाऊं क्या करूं? क्या ऐसा दिखाओ? उस पेंटिंग में कि लोगों को चौंका दें। मगर कुछ भी दिमाग में नहीं आता फिर वह उसे छोड़कर अपना कोई काम करने लगता है। यानी दूसरी पेंटिंग को बनाना बाकी पेंटिंग में उन्हें रंग करना, यह सब शुरू कर देता है।     

 अब जब यह ऐसा कर रहा होता है, तो उसका दिमाग दौड़ना शुरू कर देता है। Suddenly एक विचार आता है कि ऐसा बनाता हूं। और फिर उसने ऐसा पेंटिंग बनाइए, जिसमें समाज की अच्छाई और बुराई दोनों साफ नजर आई। इसने बनाई एक नदी और नदी में डुबती एक औरत और उस औरत को बचा रहा है एक कुत्ता।

अब यह तो हो गया इमोशन। फिर गुस्सा दिखाने के लिए इसने उसके पास लोग बनाए, लोगों की भीड़ के हाथ में मोबाइल जो डूबती औरत को बचाने की बजाय  इस हादसे को रिकॉर्ड कर रहे थे।         इस पेंटिंग में वाकई सबको चौका दिया। और उस पेंटर को इसके लिए प्राइज मिला।

तो ये हैं आपका दिमाग का काम। जो आपके सोच से परे बिल्कुल अलग काम करता है। और ऐसे बहुत सारे उदाहरण है बहुत सारे संगीतकार ने बताया कि कुछ ऐसा धुन होता है, जो उन्हें नींद में याद आती है। जब वह थक कर सो रहे होते हैं।

जब सोने से पहले का व वक्त होता है ना, जिसमें हमारा आंखें खुलती भी  हैं और बंद भी होती है। तो उसमें उन्हें कुछ धून याद आई और उन्होंने मोबाइल में गुनगुना कर रिकॉर्ड कर लिया।फिर अगले दिन इसे प्रोड्यूस किया तो वाकई में बहुत सुंदर धून लगी।          

   इसलिए प्लीज अपने ऊपर प्रेशर मत लो। आप बस काम करो। ना कि दिमाग में creative thought अपने आप आएंगे। इसके बाद हमारा माइंड ऐसे लोगों को पीछे सबसे ज्यादा भागते। पसंद करता है जो हमें इग्नोर करता है। और जो हमारे साथ रहना चाहते हैं उसे वह इग्नोर करना शुरु कर देते हैं।

क्योंकि उसे ऐसा फील होता है कि वह है ही मेरे पास।  मुझे तो वह चाहिए जो मेरे पास नहीं है। अब क्योंकि हमने अपने माइंड को बचपन से सीखाया होता है कि काश वह सामान मेरे हो, काश वह ड्रेस मेरे पास होता, काश वो जूते मेरे पास होता, तो इसका कास कास के चक्कर में उसे ऐसा लगने लगता है कि रियल लाइफ यही है।      

   कि जो मेरे पास नहीं है उसके पीछे भागो और जो आपके पास है उसे इग्नोर करो। अब क्योंकि हमारा माइंड सिर्फ कमांड फॉलो करता है। तो आप इस थिंकिंग को चेंज भी कर सकते हो। प्लीज अपने माइंड को हर बार उन चीजों से उन लोगों से रूबरू करवाओ जो अभी आपके साथ हैं।

और आपके लिए बहुत से safe और अच्छे लोग हैं। आपके बार-बार अपने आसपास के चीजों को प्यार को दिखाने से आपका माइंड आपको अपने ही लाइफ में खुश रहना सिखा देगा इसके बाद है थोड़ा अजीब बात, औरैया है कि हमारा माइंड जो हमारा मातृभाषा है।

उससे कुछ अलग भाषा में सोचो, तो हमें काफी सही निर्णय लेने में मदद करता है। ऐसा कई सारे रिसर्च में देखा गया है कि आप और भाषा में सोच कर निर्णय लेते हैं तो आपका माइंड सही निर्णय लेने में मदद करता है। तो प्लीज और भाषा जरूर सीखो।      

 इसके बाद हम रेस्टोरेंट में क्याफे में हम वेटर को इस तरह से व्यवहार करते हैं। एक्चुअल में हमारा नेचर कैसा है? इस रूल को द वेटर रूल भी कहा जाता है। इसमें यह देखा जाता है कि आप कितना परफेक्ट वेटर  है? आप किस तरह से behave करते हैं?    

असल में हमारा नेता राजा और भिखारी का दर्जा देता है। हमारा पैसा नहीं। पैसा आता जाता रहेगा। मगर आपका नेचर और आपका पर्सनलिटी न कोई ले पाया है और ना कोई ले जा पाएगा। अगर किसी चीज पर काम करना है तो पहले इस चीज पर काम करो।

 

pexels kat jayne 736843        

   इसके बाद है ऐसे काम करना जो आप को डराता है। यानी ऐसे सपने पूरे करना जिनसे आप को डर लगता है। एक ऐसी चीज है जो आपको सबसे ज्यादा खुश रखती है। आपको जब भी कोई ऐसे काम करने को मिले जिसमें थोड़ा रिस्क रहता है जिसमें खतरा रहता है। तो वह चीज करने के बाद वाकई आप खुशी जैसा फील करते हैं।

अब इसको करने के लिए कोई गलत रास्ता मत पकड़ लेना। यह मैं इसलिए बता रहा हूं कि आप अपना सपना पूरा करने के लिए थोड़ा जोखिम जरूर उठाओ। उसके बाद आपको जो खुशी मिलेगी उसका कोई मुकाबला नहीं होगा।        

    तो दो उम्मीद है कि इसके पढ़ने के बाद आपको काफी अच्छा फील हुआ होगा। यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगे तो प्लीज कमेंट में जरूर लिखें। कि आपको कौन सा बात सबसे अच्छे लगे। और जाते-जाते हमारे वेबसाइट को सब्सक्राइब कर लीजिए ताकि आने वाले थे पोस्ट आपके हाथ में सबसे पहले आ जाए।       

Leave a Reply