जीवन में सफलता चाहते हो तो बहाना छोडो

Best motivational story in Hindi

 

जीवन में सफलता चाहते हो तो बहाना छोडो

जीवन में सफलता चाहते हो तो बहाना छोडो । कभी-कभी हमारी जीवन में ऐसी परिस्थिति खड़ी हो जाती है, जिन से लड़ना मुश्किल होता चला जाता है। हालात हमारा ऐसे हो जाता है मानो सब कुछ खत्म हो गया हो। दूर दूर तक सिर्फ अंधेरा ही अंधेरा दिखाई देता है। कुछ समझ में नहीं आता, कि ऐसे परिस्थिति में करे तो करे क्या? और कई बार तो ऐसी परिस्थिति मे को quit करने का मन करता है।

    हालात चाहे तुम्हारी कैसे भी क्यों न हो। यह बात तो तय है कि वक्त भी गुजर जायेगा। चाहे अच्छा वक्त हो या बुरा, गुजर जाएगा। लेकिन एक बात हमेशा याद रखना, कि जिंदगी में कुछ कर गुजरने की अवसर इसी वक्त में मिली है। अगर यह परिस्थितियां quit ना किया जाए तो।

   क्योंकि जो विजेता होते हैं,  वह कभी quit नहीं करते। और जो quit करते वह कभी विजेता नहीं बनते। आप क्या चाहते  हो? एक एवरेज लाइफ या स्टैंडर्ड लाइफ? जब आप सड़क में निकलो तो लोग आपको इग्नोर करें या जब आप रोड में निकलो तो हर इंसान की नजर आप पर हो? क्या चाहते हो आप?

         कि, लोग यह कहे कि यह इंसान कुछ नहीं कर सकता या यह कहें कि यह बंदा कुछ ना कुछ करके जरूर दिखाएगा। यह बंदा कुछ चेंजेज लाकर दिखाएगा।  लेकिन कैसे करेगा? Quit करके? मर जाना लेकिन Quit कभी नहीं करना। चाहे परिस्थिति कितने भी बुरी क्यों ना हो।

     आपका समय आज बुरा है, कल और बुरा होगा। लेकिन परसों आप की जीत होगी। लेकिन शर्त इतनी सी है उस परिस्थिति में टिके रहो। Quit ना करो। यह प्रकृति चाहती है कि हम उन परिस्थितियों से लड़े, संघर्ष करें और हम और मजबूत बने।

     क्योंकि यह परिस्थितियां आती है  हमें मजबूत बनाने के लिए, न की हम को कमजोर करने के लिए। प्रकृति चाहती है कि आप और कामयाब बने। इसलिए आपके साथ कुछ ना कुछ बुरा होता रहता है, और ना सिर्फ आपके साथ, बल्कि इस दुनिया में मौजूद हर इंसान के साथ, हर वक्त, हर समय, कुछ ना कुछ बुरा होता ही रहता है। यह प्रकृति का नियम है हम इसमें कुछ नहीं कर सकते।

    हमें सिर्फ इतना सा करना है कि टिके रहना है चाहे परिस्थितियां कैसे भी हो। मैं आपको एक कहानी बताता हूं।

      एक बार एक बायोलॉजी की टीचर अपने स्टूडेंट को एक तितली के बारे में बता रहे थे। और उन्हें ये प्रैक्टिकल ही दिखा रहे थे कि यह खोल में से तितली कैसे निकलती है। और वे टीचर यह कह के चले गए कि कोई भी स्टूडेंट्स तितली का मदद नहीं करेगा।

     वहां पर जितने भी स्टूडेंट थे, वह सभी ध्यान से उस तितली को खोलमे से निकल रहे देख रहे थे। तभी एक स्टूडेंट को उस पर दया आ गई, और उस स्टूडेंट ने मदद की उस तितली को खोल में से बाहर निकलने में। और सफलतापूर्वक हो तितली उस स्कूल में से बाहर निकल गई। और उस स्टूडेंट की वजह से उस तितली को ज्यादा संघर्ष नहीं करना पड़ा। लेकिन वह तितली थोड़ी देर में ही मर गई।

    जब टीचर वापस लौटे तो उसे पूरे घटना मालूम हो गया था। तब टीचर ने सभी स्टूडेंट को बताया कि वह तितली जब संघर्ष करती है तो उसके पंख को मजबूती मिलती है।

     यही प्रकृति का नियम है। उस तितली को मदद करके उस स्टूडेंट ने तितली को संघर्ष करने का मौका नहीं दिया। परिणाम यह हुआ कि वह तितली मर गई।  संघर्ष ही जीवन है। संघर्ष ही आप को मजबूत बनाता है। इंग्लिश में एक Quotes है ” No pain no gain”। संघर्ष तो करना ही पड़ेगा चाहे कुछ भी हो जाए और इसमें कोई बहाना नहीं।

   No excuse…. जो विजेता होते हैं, या तो किसी काम को करते ही नहीं, या अगर करते हैं तो उसमें कभी कोई भी बहाना नहीं बनाते। और जो looser होते हैं वह किसी भी काम मे बहाना बनाएगा। अगर वह चाहे तो बहाना बनाने पर पूरी एक किताब लिख सकते हैं। 

 

      मेरी तो किस्मत ही खराब है।  मेरे साथ ऐसा क्यों होता है? मेरी उम्र बहुत कम है।  मेरी हाइट बहुत कम है।  मैं काला हूं मैं सुंदर नहीं हूं। मुझे कोई पसंद नहीं करते। मैं ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं हूं।  मेरे पास टाइम नहीं है। मेरी आवाज अच्छी नहीं है। मेरे पास है नहीं मेरे पास सुबह नहीं।

      देखो जो जैसा है वह वैसा है। ना तो आज कुछ बदला है और ना ही कभी कुछ बदल ने वाला है। तब तक जब तक कि आप अपने आप को नहीं बदल लेते हैं।

    ज़ब भी अंदर से फीलिंग आए, चाहे जब भी बहाना बनाने का मन करें अपने आप से जोर से चीलाकर कहे No excuse. कोई बहाना नहीं राह पर आप काम करते हैं,  जहां पर आप पढ़ाई करते हैं,  जहां आप रहते हैं.

Leave a Reply